WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana 2024 सूखा राहत योजना Eligibility, Online Registration

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana 2024: झारखण्ड सरकार द्वारा सूखे की समस्या से ग्रसित किसान परिवारों के लिए माननीय मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की शुरुआत की गई। इस योजना के अंतर्गत राज्य के 22 जिलों के 226 प्रखंडों को सूखाग्रस्त घोषित कर दिया गया है। जिससे किसानों को 3500 रुपए की राशि आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana का लाभ उठाने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करवाना होगा। और इस योजना के लिए कौन-कौन से किसान परिवार पात्र है उनकी सूची नीचे दी गई है।

क्या है आर्टिकल में

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana 2024 (मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024)

योजना का नाममुख्यमंत्री सुखाड़ (सूखा) राहत योजना 2024
किसके द्वारा शुरू की गईझारखण्ड सरकार
उद्देश्यझारखण्ड के सूखाग्रस्त किसानों को सहायता प्रदान करना 
लाभ3500 रुपए की आर्थिक सहायता
बजट890 करोड़
हेल्पलाइन नंबर18001231136
आधिकारिक वेबसाइटmsry.jharkhand.gov.in

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana Other Name (मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 झारखण्ड अन्य नाम)

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 को मुख्यमंत्री सूखा राहत योजना, झारखण्ड सूखा राहत योजना, झारखंड ड्रॉट रिलीफ स्कीम के नाम से भी जानते है। 

मुख्यमंत्री सूखा राहत योजना क्या है?

सरकार द्वारा झारखंड राज्य में, 22 जिलों (पूर्वी सिंहभूम और सिमडेगा को छोड़कर) के 226 प्रखंडों को सूखा प्रभावित घोषित किया गया है। इस सूखे की स्थिति को देखते हुए, 22 जिलों के 226 प्रखंडों के हर एक पीड़ित किसान परिवार को तुरंत सूखा राहत के लिए 3500 रुपए (अग्रिम) की राशि दी जाएगी। इन 226 प्रखंडों के सभी प्रभावित किसान परिवारों को इस राशि को जल्दी ही उपलब्ध किया जाएगा। 

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा शुरू की गई इस योजना के तहत राज्य में लगभग 30 लाख से अधिक किसान परिवार जो सूखे की चपेट में हैं उन्हें इसका लाभ मिलेगा।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana Objective (मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 झारखण्ड का उद्देश्य)

सुखाड़ यानी सूखा किसानों की एक अहम समस्या जिसने राज्य के लगभग किसानों की आर्थिक स्थिति को खराब कर दिया है। झारखंड सरकार द्वारा इसी गंभीर समस्या को देखते हुए झारखंड के कुल 22 जिलों के 226 प्रखंड जोकि सूखे की चपेट में है, उन किसानों के लिए झारखंड के माननीय मुख्यमंत्री श्रीमान हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना का शुभारंभ किया। इस योजना के अंतर्गत झारखंड सरकार सूखे से पीड़ित प्रत्येक किसान परिवार को 3500 रुपए की अग्रिम राशि आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान करवा रही है।

यदि राज्य का कोई भी किसान सूखे की समस्या से पीड़ित है तो वह ऑनलाइन रूप से इसका पंजीकरण करवा सकता है। 

सुखाड़ का पैसा कब आएगा 2024?

जिन किसानों ने सूखा राहत योजना के लिए आवेदन करवाया है केवल उन्हीं किसानों को मुआवजे की राशि उनके अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से भेज दी जाएगी। यदि किसी भी किसान ने इसके लिए आवेदन नहीं करवाया है तो है इसके लिए ऑनलाइन रूप से आवेदन कर सकते हैं। जिसके बाद सूखे से पीड़ित किसानों को राशि उनके खाते में प्राप्त हो जाएगी। 

सूखा राहत का पैसा कैसे चेक करें?

  • लाभार्थी को सबसे पहले योजना से संबंधित ऑफिशल वेबसाइट को विजिट करना होगा।
  • जहां पर आपको अपनी ईमेल आईडी अथवा मोबाइल नंबर से लॉगिन करना पड़ेगा।
  • जिसके बाद आप आवेदन का स्टेटस प्राप्त कर सकते हैं।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana Budget (मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 झारखण्ड बजट)

झारखण्ड सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 का कुल बजट 890 करोड़ रुपए रखा गया है।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana Eligibility (मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 झारखण्ड पात्रता)

  • जिन किसानों ने इस वर्ष बुवाई नहीं करवाई हो। 
  • मुख्यमंत्री सुखाड़ राहतयोजना का लाभ केवल झारखण्ड की महिलाओं को प्राप्त होगा
  • जिन किसान परिवारों की फसल क्षति 33% से ज्यादा हो।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana Documents (मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 झारखण्ड दस्तावेज)

  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • किसान आईडी कार्ड
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • खसरा नंबर
  • खेत का खाता नंबर

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana Benefit and Features (मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 के लाभ एवं विशेषताएं)

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 के लिए उम्मीदवारों को निम्न लाभ प्राप्त होंगे-

  1. इस योजना की शुरुआत झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा किसानों की सूखे के कारण खराब हुई आर्थिक स्थिति को देखते हुए की गई।
  2. इसके तहत राज्य के कुल 22 जिलों जिनमें 226 प्रखंड सूखे की चपेट में आने वाले 30 लाख से भी अधिक किसानों को लाभ दिया जाएगा।
  3. इसके अंतर्गत किसानों को 3500 रुपए की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा दी जाएगी।
  4. इसका लाभ केवल राज्य के सूखाग्रस्त किसानों को ही प्राप्त होगा।
  5. इसका लाभ प्राप्त करने के लिए किसान ऑनलाइन रूप से आवेदन कर सकते हैं।
  6. आवेदन करने के लिए किसान द्वारा इस साल बुवाई नहीं की होनी चाहिए और फसल को 33%  से ज्यादा क्षति हो।
  7. हाल ही में योजना के अंतर्गत 58550 किसानों की लिस्ट बैंक में भेज दी गई है। 

Read More

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 में अपना नाम कैसे देखें?

जो भी लाभार्थी इस योजना में अपना नाम चेक करना चाहता है वह ऑफिशल वेबसाइट msry.jharkhand.gov.in के माध्यम से लॉगइन करके अपना नाम चेक कर सकता है।

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 का लाभ लेने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको योजना से संबंधित ऑफिशल वेबसाइट को विजिट करना होगा।
  • उसके बाद आपको पंजीकरण करें के बटन पर क्लिक करना है।
  • वहां पर आपको अपनी ईमेल आईडी और पासवर्ड डालकर अकाउंट बना लेना है।
Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana
  • फिर आपको उसी ईमेल आईडी से लॉगिन कर लेना है।
  • जिसके बाद आपको योजना से संबंधित ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana 2024 की लिस्ट कैसे चेक करें?

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 के अंतर्गत मोबाइल लाभार्थियों की लिस्ट चेक करने के लिए आपको नीचे दिए गए चरण फॉलो करने होंगे-

  • सबसे पहले आपको msry.jharkhand.gov.in वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • वहां पर आपको अपना मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी डालकर लॉगइन कर लेना है।
  • हाल ही में 58550 किसान परिवारों की लिस्ट जारी कर दी गई है।
  • जहां आप अपना नाम लिस्ट में चेक कर सकते हैं।
  1. मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 झारखण्ड के लिए आवेदन किस प्रकार करें?

    इस योजना के लिए आप ऑनलाइन रुप से आवेदन कर सकते है।

  2. मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 किसने शुरू की? 

    इस योजना की शुरुआत झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा की गई।

  3. मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 झारखण्ड के अंतर्गत कितने किसानों को लाभ प्राप्त होगा?

    मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 के अंतर्गत कुल 30 से भी ज्यादा किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा।

Leave a Comment